सोनीपत में लॉक डाउन के दौरान प्रति व्यक्ति मिलेगा 200 लीटर पानी

हरियाणा के सोनीपत में लॉक डाउन करने के बाद कई नई चीजें सामने आएंगी। जिससे निपटने के लिए संबंधित विभाग अपने-अपने स्तर पर कार्य करना शुरू कर दिया है। सबसे जरूरी चीज जीवन के लिए पीने का पानी है। लोग घरों में रहेंगे तो पानी भी अधिक लगेगा। जिसके लिए जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने अपने अनुभव के तहत शहर में पेयजल आपूर्ति केेे समय में बढ़ोतरी करने का निर्णय लिया है।

पहले की तुलना में कॉलोनियों में 50 प्रतिशत अधिक समय तक पानी चलाया जाएगा। प्रति व्यक्ति 200 लीटर पानी की आपूर्ति का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए पानी चलाने वाले आपरेटर और की-मैन को दिशा-निर्देश जारी किया गया है। इनकी कार्यावधि में भी बदलाव कर दिया है।की-मैन ड्यूटी की समयावधि आठ घंटे रहेगी। फिलहाल शहरी क्षेत्र में प्रति व्यक्ति 135 लीटर पीने के पानी की आपूर्ति की जा रही है।

शहरी क्षेत्र में अब सीवर और पानी की सप्लाई नगर निगम द्वारा मेंटेन की जा रही है। हालांकि स्टाफ जनस्वास्थ्य विभाग का पुराना है। जिन्हें कार्य का पूरा अनुभव है। जिसके कारण यह लोग समय से स्वतः ही समझ जाते हैं कि अब कहां और कितने पानी की जरूरत है। इसके तहत ही निचले स्तर के अधिकारियों और कर्मचारियों ने पेयजल आपूर्ति बढ़ाने का निर्णय लिया है। ताकि किसी को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।

नए प्रपोजल के तहत शहर भर में प्रति व्यक्ति 200 लीटर पानी की आपूर्ति की जाएगी।अभी शहर में प्रति व्यक्ति प्रतिदिन 135 लीटर पानी दिया जा रहा है। यह पानी पूरी तरह से प्यूरीफाइड है। जाजल में बने रैनीवेल प्रोजेक्ट से लगभग सभी इलाकों में आपूर्ति की जा रही है।पानी आपूर्ति के लिए सप्लाई के समय में बदलाव किया गया है।गली के अनुसार पानी का समय निर्धारित किया गया है। जिसके तहत सभी के समय में 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई है।यानि कि अगर इलाके में एक घंटा पानी चलाया जाता था तो अब डेढ़ घंटा चलाया जाएगा।

47 हजार पानी उपभोक्ता हैं : नगर निगम क्षेत्र में फिलहाल 47 हजार उपभोक्तओं को प्रतिदिन पेयजल की आपूर्ति की जा रही है। इसके अलावा शहर के विभिन्न हिस्से में बूस्टर बनाया गया है।जहां पर पानी को स्टाेेेर करने के बाद आगे कॉलोनियों में आपूर्ति किया जाता है। करीब 12 एमजीडी पानी की आपूर्ति रोजाना की जाती है। इसके लिए की-मैन नियमित रूप से निर्धारित समय के लिए कॉलोनी वाइज पानी खोलते हैं।

चीयर्स डेस्क 

loading...
Close
Close