नशे में कुछ फिल्मी सितारे डूब गए, कुछ उबर गए

अपने काॅरियर के शीर्ष पर पहुंच कर शराब में डूब जाने वाली फिल्मी हीरोइनों में ट्रेजडी क्वीन मीना कुमारी और ग्लैमर क्वीन परवीन बॉबी का नाम लिया जाता हैं। लेकिन इन जैसी न जाने कितनी एक्ट्रेस थीं जिनकी जिंदगी को शराब पी गई। मीना और परवीन का गृहस्थ जीवन कभी सामान्य नहीं रहा। उन्हें प्यार की तलाश में भटकना पड़ा। बाॅलीवुड के कई लोगों का कहना है कि आज के जमाने के मशहूर और प्रतिष्ठित हो चुके अभिनेता अपना काॅरियर बनाने के लिए इन हीरोइनों का शारीरिक और भावनात्मक शोषण करते रहे।

यह भी पढ़ें-’ओल्ड टाॅम’ के तीन पैग रोज़ पीते थे चचा ग़ालिब

लीवर की गंभीर बीमारी से सिर्फ 38 साल की उम्र में ही मीना कुमारी इस दुनिया से चल बसीं क्योंकि उन्हें शराब की लत लग गई थी। कहा जाता है कि उन्होंने अपने आखिरी दिनों में काफी तंगी झेली लेकिन शराब पीना नहीं छोड़ा। महजबीन बानो, उनका असली नाम था। वह एक्ट्रेस होने के साथ साथ कवियित्री भी थीं, एक कविता संग्रह भी उनका आ चुका है। इतनी प्रतिभाशाली एक्ट्रेस का वैवाहिक जीवन सफल नहीं रहा। कमाल अमरोही के साथ शादी और फिर तलाक और उसी दौरान पाकीज़ा की शूटिंग…इस तरह के संयोग उनकी जिंदगी में भरे पड़े थे जिन्होंने उन्हें तोड़ कर रख दिया और अंततः वह शराब की आदी हो गईं, बिना शराब जी नहीं सकीं और मर गईं।

यह भी पढ़ें- एल्कोहलिक या शराबी नहीं, शराब उपभोक्ता हैं पीने वाले !

राजेश खन्ना जैसा स्टार शायद ही कोई दूसरा हो जिसने बाॅलीवुड में जो चाहा, जैसे चाहा वैसे फिल्मों में काम किया। जबर्दस्त स्टारडम के चलते किसी की हिम्मत ही नहीं थी कि राजेश खन्ना से कुछ कहते। जब अपने काॅरियर की ऊंचाइयों पर पहुंचे तो शराब ने उनके हाव भाव बदल दिए और वह पीकर किसी को भी झिड़क देने के लिए कुख्यात हो गए। डिंपल कपाडिया से रिश्ते बिगड़ने और उनके घर से चले जाने के बाद तो राजेश खन्ना के पास शराब पीने के अलावा कुछ बचा ही नहीं था क्योंकि तब तक वह अपने काॅरियर की ढलान पर भी जा चुके थे। उनके करीबी लोगों का मानना है कि पीते पीते ही उनकी मौत हुई। शराब के कारण ही आखिरी दिनों उनकी शक्ल बदहवास से दिखने लगी थी।

ग्लैमरस जीनत अमान के साथ बॉलीवुड की टॉप की अभिनेत्रियों में शुमार होने वाली परवीन बॉबी को शराब ने कुछ इस तरह से घेर लिया कि वह बोतल से बाहर ही नहीं आ सकीं। धीरे धीरे वह अपने अंदर सिमटती गईं और एक दिन वह भी आया जब उनकी लाश उनके घर में पाई गई। परवीन गुजरात के एक विख्यात राजघराने से ताल्लुक रखती थीं और जब वो बम्बई गई थीं तो उनके साथ कई बक्से सामान और धन दौलत भी गया था। यही वजह थी कि उनके घर पर उस दौर के तमाम अभिनेता मौजूद रहते थे। परवीन गज़ब की ग्लैमरस एक्ट्रेस थीं, टाइम जैसी प्रतिष्ठित पत्रिका ने कवर पर फोटो प्रकाशित करने के लिए परवीन को चुना था। अमिताभ बच्चन, शशि कपूर, संजीव कुमार, ऋषि कपूर, विनोद खन्ना, राजेश खन्ना, शत्रुघन सिन्हा जैसे स्टार हीरो के साथ काम करने वाली परवीन बाॅबी ने बेहतरीन अभिनय किया। लेकिन व्यक्तिगत जीवन में वह किसी का साथ नहीं पा सकीं और तन्हाई की शिकार होकर शराब के साथ समय गुजारने लगीं और फिर एक दिन चुपचाप मर गईं।

यह भी पढ़ें- पीने वालों को ही ज़्यादा काटते हैं मच्छर !

परवीन से पहले, 1930 के दशक के मशहूर गायक-अभिनेता कुंदन लाल सहगल भी नशे के शिकार हुए। वह हमेशा शराब में डूबे रहते थे। वह शराब पी कर ही अभिनय और पार्श्व गायन करते थे। वक्त बदला। पार्श्व गायन का तकनीक बदली और तरीका बदला। इसके साथ ही सहगल के बुरे दिन आ गए। वह शराब पीने की लत पूरी करने में अपनी पूरी जमा पूंजी लुटा बैठे। अंतिम समय में वह पैसे पैसे को मोहताज हो गए। उनकी मृत्यु भी शराब के कारण लीवर खराब हो जाने से हुई। दिव्या भारती ने बड़ी जल्दी शोहरत की बुलंदिया छू लीं। इन्ही बुलंदियों ने पहले पार्टियों में फिर घर में उन्हे शराब का आदी बना दिया। वह जवान भी थीं, कम उम्र में पीने लगी थीं तो पहले तो पता नहीं चला। इसी का उन्होंने फायदा उठाया कि हर वक्त पीने लगीं और एक दिन अपने अपार्टमेंट की पांचवी मंजिल से नीचे गिर कर मर गईं। कहा जाता है कि वह नशे में डूबी अपने अपार्टमेंट की खिड़की खोल कर बैठी हुई थी कि संतुलन खो बैठी और नीचे आ गिरी।

नशे से उबरने के बाद वापसी

बॉलीवुड के कुछ ऐसे सितारे हैं, जिन्होंने नशे की लत से छुटकारा भी पाया और बॉलीवुड में वापसी भी की। संजय दत्त, ऐसे उदाहरण है, जिनकी नशे की लत ने उनकी मां और पिता को जीवन भर निराशा दी। मां की कैंसर और बेटे के दुख के साथ मौत हुई । संजय दत्त को बॉम्बे बम ब्लास्ट मामले में लिप्त होने के आरोप में जेल भी जाना पड़ा। लेकिन, संजय दत्त ने तमाम बाधाओं, कष्टों से लोहा लेते हुए, खुद को नशे से उबारा, सजा काट कर बॉलीवुड में वापसी की। आज उनके पास कई बड़ी फिल्में हैं।

यह भी पढ़ें- बागपत से शाहगंज तक रोज काटी जाती है शराब उपभोक्ताओं की जेब

रैपर हनी सिंह और स्टैंडप कॉमेडियन कपिल शर्मा को नशे की लत ने, उनके काॅरियर से दूर कर दिया। लेकिन, इन दोनों ने नशे से छुटकारा पाया। हनी सिंह का सिंगल मखना पिछले दिनों रिलीज हुआ है। कपिल शर्मा भी, नशे से छुटकारा पा कर और शादी रचा कर अपना मंच सजा चुके है। एक इंटरव्यू में, रणबीर कपूर ने भी स्वीकार किया कि वह फिल्म स्कूल के दिनों में मारिजुआना लिया करते थे। लेकिन, रॉकस्टार के दौरान उन्होंने एक्टिंग पर फोकस करना शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ें- 65 रुपए वाली कासबर्ग बियर मिलती है 190 रुपए में !

स्वर्गीय स्मिता पाटिल और राज बब्बर के बेटे प्रतीक ने 13 साल की उम्र से नशीली दवाओं का सेवन शुरू कर दिया था। वह नशे की हालत में अपने काॅरियर को लगभग खत्म कर बैठे थे, लेकिन अब वह नशे से छुटकारा पा कर वापसी कर रहे हैं। वह पिछले साल कई फिल्मों में नजर आए। पूजा भट्ट को भी नशे और शराब ने खत्म कर दिया। लेकिन, पिता महेश भट्ट की मेहनत का नतीजा था कि वह बॉलीवुड में वापसी कर पाने में सक्षम हुई। बेशक अब वह फिल्म मेकिंग तक ही सीमित हैं। पूजा ने बतौर निर्देशक कई बेहतरीन फिल्में दीं। पूजा भट्ट ने ज़ख्म, सड़क, दिल है कि मानता नहीं और ’तमन्ना’ जैसी शानदार फिल्मों का निर्देशन किया।

चीयर्स डेस्क

loading...
Close
Close