ओडिशा में शराब कारोबारी के खिलाफ जनाक्रोश, लोगों ने की जमकर पिटाई

उड़ीसा के  राऊरकेला में  राष्ट्रीय विद्यालय स्कूल मार्ग पर पुराना स्टेशन के पास रेलवे की जमीन पर कभी स्वर्णलता की टूटी झोपड़ी खड़ी थी। उसमें राहगीरों के लिए प्याऊ बनाया गया था। जबकि स्वर्णलता इन दिनों वहां से हटकर बगल के घर रह रही है। रविवार को उक्त झोपड़ी को शराब के अवैध कारोबारी मो. रियाज ने तोड़ने का प्रयास किया। इससे विवाद बढ़ गया और स्थानीय लोगों ने रियाज की जमकर पिटाई कर दी। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों पक्ष के लोगों को थाने ले गई।

जानकारी के अनुसार रियाज उक्त जमीन पर लंबे अर्से से शराब की अवैध दुकान खोलने का प्रयास कर रहा था। जिसका स्थानीय लोग विरोध कर रहे है। इससे पहले भी उक्त जगह को लेकर तनाव हो चुका है। रविवार को रियाज ने एक बार फिर से लोगों को गाली देते हुए प्याऊ वाली जगह तोड़ने लगा। यह देख स्थानीय लोग एकजुट हो गए और उसकी पिटाई कर दी। बस्तीवासियों ने कहा है किसी भी हालत में इस जगह शराब दुकान खोलने नहीं दिया जाएगा।

दस माह पूर्व गर्मी के समय शराब दुकान बंद करने की मांग रियाज नहीं माना। रेलवे आइओडब्ल्यू से शिकायत करने पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई तो रियाज बस्तीवासियों को जान से मारने की धमकी दी थी। तब बस्तीवासियों उसकी दुकान तोड़ दी और पुलिस को सूचना दी। उस समय पुलिस ने रियाज को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इसके बाद बस्तीवासियों ने उक्त झोपड़ी में राहगीरों के लिए प्याऊ खोल दिया था।

रविवार को रियाज पुराना स्टेशन पहुंचा और प्याऊ को तहस नहस करने के साथ बस्तीवासियों गाली देने को गाली देने लगा। जिसका बस्तीवासियों ने विरोध किया। इस पर रियाज उनके साथ मारपीट पर उतर आया। ऐसे में बस्तीवासियों ने एकजुट होकर उसकी जमकर पिटाई कर दी और प्लांट साइट पुलिस को सूचना दी। इस दौरान रियाज के साथ बस्ती के कुछ युवक घायल भी हो गए। पुलिस ने दोनों पक्ष के लोगों से थाना में पूछताछ कर रही है। फिलहाल किसी पक्ष ने थाना में शिकायत दर्ज नहीं करायी है। शिकायत दर्ज कराने के बाद पुलिस आगे कार्रवाई करेगी।

loading...
Close
Close